कचहरी  

कचहरी मध्य काल के सामंतवादी युग में उस स्थान को कहा जाता था, जहाँ पर सम्राट, उसके सामंत अथवा अन्य अधिकारी विभिन्न विषयों पर अपने निर्णय देते थे।

  • वर्तमान शासन प्रणाली में प्रत्येक राज्य न्यायिक प्राविधि द्वारा अधिकार दायित्व संबंधी विवादों के समाधान एवं विधि की अधिकृत व्याख्या के लिए पृथक संगठन की स्थापना करता है। इन संस्थाओं के लिए एवं उस स्थान के लिए जहाँ न्याय प्रशासन होता है, 'कचहरी' शब्द का प्रयोग होता है।[1]


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. कचहरी (हिन्दी) भारतखोज। अभिगमन तिथि: 27 जुलाई, 2014।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः