भारतकोश के संस्थापक/संपादक के फ़ेसबुक लाइव के लिए यहाँ क्लिक करें।

इन्सैट-3बी उपग्रह  

इन्सैट-3बी, इन्सैट प्रणाली में जुड़ने वाली इन्सैट-3 शृंखला के अधीन 'इसरो' (भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन) द्वारा निर्मित पाँच उपग्रहों में से पहला है। इन्सैट-3बी 83 डिग्री पूर्व रेखांश पर इन्सैट-2ई के साथ सह-स्थित है। यह उपग्रह मुख्यतः व्यावसायिक संचार, मोबाइल संचार, विकासात्मक संचार के लिए सेवारत है; यह इन्सैट के प्रशिक्षण और विकासात्मक संचार चैनल को प्रोत्साहन देते हुए अन्योन्यक्रिया प्रशिक्षण और विकासात्मक संचार के लिए स्वर्ण जयंती विद्या विकास अंतरिक्ष उपग्रह योजना (विद्या वाहिनी) हेतु प्रेषानुकर का प्रथम सेट उपलब्ध कराता है।

मिशन संचार और मौसमविज्ञानीय
अंतरिक्ष-यान भार
  • 2,070 (प्रमोचन के समय भार)
  • 970 कि.ग्रा. (शुष्क भार)
ऑनबोर्ड पॉवर 1,712 वॉ.
स्थिरीकरण भू संवेदक, सूर्य संवेदक, जड़त्वीय निर्देश एकक, संवेग/अभिक्रिया चक्र, चुंबकीय आघूर्णक और समेकित द्वि-नोदक थ्रस्टरों का उपयोग करते हुए 3-अक्षीय पिंड स्थिरीकृत संवेग नियंत्रण प्रणाली।
नोदन अलग टाइटेनियम टंकियों में संग्रहित ईंधन और ऑक्सीडाइज़र तथा केवलार कुंडलित टाइटेनियम टंकी में प्रेशरंट सहित द्रव अपभू मोटर।
नीतभार
  • 12 विस्तारित सी-बैंड प्रेषानुकर
  • पाँच केयू बैंड प्रेषानुकर
  • मोबाइल उपग्रह सेवाएँ (एमएसएस)
प्रमोचन दिनांक 22 मार्च, 2000
प्रमोचन स्थल फ़्रेंच गियाना
प्रमोचन यान एरियाने -5
कक्षा भू-स्थिर (83 डिग्री पूर्व रेखांश)
झुकाव 7 डिग्री
मिशन कालावधि अति दीर्घ


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

बाहरी कड़ियाँ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=इन्सैट-3बी_उपग्रह&oldid=349015" से लिया गया