औरंगाबादी महल साहिबा  

औरंगाबादी महल साहिबा (अंग्रेज़ी: Aurangabadi Mahal Sahiba, जन्म- 1688 ई.) भारतीय इतिहास में प्रसिद्ध मुग़ल शासक औरंगज़ेब की तीसरी पत्नी थी।

  • औरंगाबाद शहर में औरंगज़ेब के हरम में प्रवेश के बाद उसका नाम 'औरंगाबादी महल' रखा गया था।
  • बादशाह औरंगज़ेब की इस ख़ास मल्लिका का मूल नाम 'राबीया उद दुर्रानी' था।
  • औरंगाबादी महल साहिबा ने एक बेटी को जन्म दिया था, जिसका नाम मेहर-उन-निस्सा रखा गया था, जिसका विवाह इज़ाद बख्श से हुआ जो दिल्ली के शहज़ादे मुराद बख्श का पुत्र था।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=औरंगाबादी_महल_साहिबा&oldid=662142" से लिया गया