करूर  

Disamb2.jpg करूर एक बहुविकल्पी शब्द है अन्य अर्थों के लिए देखें:- करूर (बहुविकल्पी)

करूर केरल की प्राचीनतम राजधानी थी, जो पेरियार नदी पर स्थित थी। करूर का अभिज्ञान वर्तमान 'तिकरूर' ग्राम से किया जाता है, जो कोचीन से 28 मील पूर्वोत्तर में स्थित है।

  • अमरावती और कावेरी नदी का संगम यहाँ से 6 मील की दूरी पर है।
  • केरल या चेरवंशीय नरेशों के पश्चात् चोलों ने भी यहाँ राज्य किया था।
  • चोल अपने को सूर्यवंशीय मानते थे, और इसी कारण 'करूर' को 'भास्करपुरम्' या 'भास्करक्षेत्र' भी कहा जाता था।
  • करूर में पशुपतीश्वर शिव का कलापूर्ण मंदिर स्थित है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  • ऐतिहासिक स्थानावली | पृष्ठ संख्या= 141| विजयेन्द्र कुमार माथुर | वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग | मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=करूर&oldid=629955" से लिया गया