कहावत लोकोक्ति मुहावरे-फ  

कहावत लोकोक्ति मुहावरे वर्णमाला क्रमानुसार खोजें

                              अं                                                                                              क्ष    त्र    श्र
कहावत लोकोक्ति मुहावरे अर्थ
1- फलूदा खाते दाँत टूटें तो टूटें। अर्थ - स्वाद के लिए नुक़सान भी मंजूर है।
2- फिसल पड़े तो हर गंगा। अर्थ - काम बिगड़ जाने पर कहना कि मैंने स्वयं चाहा था।
3- फुई-फुई करके तालाब भरता है। अर्थ - थोड़ा-थोड़ा जमा करते-करते ढेर हो जाता है।
4- फावड़ा चलाना। अर्थ - मेहनत का काम करना।
5- फूलकर कुप्पा होना। अर्थ - बहुत खुश या नाराज़ होना।
6- फूल झड़ना। अर्थ - प्रिय वचन बोलना।

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=कहावत_लोकोक्ति_मुहावरे-फ&oldid=624305" से लिया गया