बलदाऊ मन्दिर मथुरा  

  • मथुरा के कंसखार दशावतार गली के सामने स्थित यह मन्दिर शेरगढ़ निवासी बौहरे खुशाली राम ने संवत् 1922 में लगभग 25 हज़ार की लागत से बनवाया था। इसके साथ एक धर्मशाला भी है, जो शेरगढ़ वाली कुंज कहलाती है।
ब्रज में दाऊजी या बलराम का मुख्य मंदिर बलदेव में है।


संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=बलदाऊ_मन्दिर_मथुरा&oldid=195613" से लिया गया