महारानी स्वर्णमयी का मन्दिर वृन्दावन  

  • यमुना पुलिन के पास में ही यह मंदिर स्थित है।
  • कासिम बाज़ार के सुप्रसिद्ध कान्त बाबू के प्रपौत्र कुमार कृष्णनाथ की पत्नी महारानी स्वर्णमयी ने इस मन्दिर का निर्माण किया।
  • इसमें पहले श्रीश्यामसुन्दर विग्रह पूजित होते थे।
  • अब महारानी के द्वारा प्रतिष्ठित श्रीगोपीनाथ जी विराजमान हैं।


संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=महारानी_स्वर्णमयी_का_मन्दिर_वृन्दावन&oldid=124771" से लिया गया