श्री टीकारी रानी की ठाकुर बाड़ी वृन्दावन  

  • यह मन्दिर वृन्दावन की उत्तर दिशा में यमुना तट पर स्थित है।
  • बिहार के (गया ज़िला) अन्तर्गत टीकरी नामक राज्य के राजा हितकाम ठाकुर की रानी इन्द्रजीत कुमारी ने सन् 1871 ई. में इस मन्दिर का निर्माण किया था।
  • इसमें राधाकृष्ण, श्रीराधागोपाल और श्रीलड्डूगोपाल- ये तीन विग्रह विराजमान हैं।
  • यह मन्दिर अतिथि-सेवा के लिए प्रसिद्ध था।

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=श्री_टीकारी_रानी_की_ठाकुर_बाड़ी_वृन्दावन&oldid=260753" से लिया गया