सरकारी वानस्पतिक उद्यान, उटकमंड  

सरकारी वानस्पतिक उद्यान, उटकमंड

सरकारी वानस्पतिक उद्यान (अंग्रेज़ी: Government Botanical Garden, Ooty) तमिलनाडु के उटकमंड में स्थित है। इस बॉटनिकल गार्डन की स्थापना वर्ष 1847 में की गई थी। उटकमंड को 'ऊटी' भी कहा जाता है। गार्डन लगभग 22 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला है और डोड्डाबेट्टा चोटी की तलहटी में स्थित है। इस बॉटनिकल गार्डन में एक सीढ़ीदार लेआउट है और इसे कई खंडों में विभाजित किया गया है।

  • इस वानस्पतिक उद्यान को वर्ष 1819 में कोयम्बटूर के कलेक्टर जॉन सुलिवन द्वारा बनाया गया था। प्रारंभिक लेआउट 1840 के अंत के दौरान ट्वीडेल के मार्क्विस द्वारा डिजाइन किया गया था।
  • इसे ब्रिटिश निवासियों को उचित दाम पर सब्जियों की आपूर्ति के उद्देश्य से स्थापित किया गया था। इस उद्यान की देख-रेख वर्तमान में तमिलनाडु का हॉर्टीकल्चर विभाग करता है।
  • ऊटी के बॉटनिकल गार्डन में लगभग एक हजार प्रजातियां हैं, दोनों विदेशी और देशी किस्म के पौधे, झाड़ियां, लताएं, पेड़ और हर्बल पौधे। बगीचे के केंद्र में एक जीवाश्म पेड़ का तना है, जो बीस मिलियन वर्ष पुराना होने का अनुमान है।
  • उद्यान में कई लॉन, लिली तालाब, फूलों के बिस्तर, इतालवी शैली में लगाए गए फर्न, फूलों के पौधों के कई भूखंड और विभिन्न प्रकार के औषधीय पौधों का एक समूह शामिल हैं।
  • इस गार्डन में स्थित गुलाब उद्यान में देश में गुलाब का सबसे बड़ा संग्रह है।
  • यह शांत उद्यान छह भागों में विभाजित हैः लोअर गार्डन, इटालियन गार्डन, न्यू गार्डन, कंजर्वेटरी, फाउंटेन टेरेस और नर्सरी।
  • यह उद्यान नीलगिरि की प्राकृतिक पेड़-पौधों की एक सजीव दीर्घा है और यह दिन बिताने के लिए एक आदर्श स्थान है।


पन्ने की प्रगति अवस्था
आधार
प्रारम्भिक
माध्यमिक
पूर्णता
शोध

टीका टिप्पणी और संदर्भ

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=सरकारी_वानस्पतिक_उद्यान,_उटकमंड&oldid=660299" से लिया गया