मनोकामना कुण्ड काम्यवन  

विमल कुण्ड और यशोदा कुण्ड के बीच में मनोकामना कुण्ड और काम सरोवर एक साथ विराजमान हैं । यहाँ स्नानादि करने पर मन की सारी कामनाएँ पूर्ण हो जाती हैं । [1] काम्यवन में गोपिकारमण कामसरोवर है, जहाँ पर मन की सारी कामनाएँ पूर्ण हो जाती हैं । उसी काम्यवन में अन्यान्य सहस्त्र तीर्थ विराजमान हैं ।


टीका टिप्पणी और संदर्भ

  1. तत्र कामसरो राजन ! गोपिकारमणं सर: । तत्र तीर्थ सहस्त्राणि सरांसि च पृथक्–पृथक् ।। स्कंध पुराण

संबंधित लेख

वर्णमाला क्रमानुसार लेख खोज

                              अं                                                                                                       क्ष    त्र    ज्ञ             श्र   अः



"https://bharatdiscovery.org/bharatkosh/w/index.php?title=मनोकामना_कुण्ड_काम्यवन&oldid=139501" से लिया गया